Monday, 5 September 2022

PARVEEN SHAKIR.. COUPLETS

मिलते हुए दिलों के बीच और था फ़ैसला कोई
उस ने मगर बिछड़ते वक़्त और सवाल कर दिया 

Between meeting hearts 
was a gap of some sort. 
But while leaving he has questioned  another part. 

हम तो समझे थे कि इक ज़ख़्म है भर जाएगा
क्या ख़बर थी कि रग-ए-जाँ में उतर जाएगा 

I thought it was a wound, would somehow I heal. 
Didn't know in important blood vessels 'd reveal. 

कमाल-ए-ज़ब्त को ख़ुद भी तो आज़माऊँगी
मैं अपने हाथ से उस की दुल्हन सजाऊँगी 

I will try up on myself self - control 
Will decorate his bride, take 
my role. 

याद तो होंगी वो बातें तुझे अब भी लेकिन
शेल्फ़ में रक्खी हुई बंद किताबों की तरह 

You might be recollecting our talks even now. 
Like books kept closed in the shelf somehow. 

शाम भी हो गई धुँदला गईं आँखें भी मिरी
भूलने वाले मैं कब तक तिरा रस्ता देखूँ 

O forgetter! It's evening and misty are my eyes. 
How long can I wait  for you amidst the sighs? 

मैं सच कहूँगी मगर फिर भी हार जाऊँगी
वो झूट बोलेगा और ला-जवाब कर देगा 

I 'll speak the truth but lose even then. 
He' ll tell lies and I can't reply even then. 

काँटों में घिरे फूल को चूम आएगी लेकिन
तितली के परों को कभी छिलते नहीं देखा 

It 'll kiss the flowers with thorns all around. 
Never a scratch on butterfly wings was found. 

बस ये हुआ कि उस ने तकल्लुफ़ से बात की
और हम ने रोते रोते दुपट्टे भिगो लिए 

He formally talked, only it was so. 
I wept' n wept to wet scarfs in row. 

कुछ फ़ैसला तो हो कि किधर जाना चाहिए
पानी को अब तो सर से गुज़र जाना चाहिए

Let us decide which way to go. Let water overhead now flow. 

कल रात जो ईंधन के लिए कट के गिरा है
चिड़ियों को बड़ा प्यार था उस बूढ़े शजर से

The tree felled for burning logs last night. 
Birds loved that old one even  in flight. 


 




No comments:

Post a Comment